पीएम विश्वकर्मा योजना : ग्रामीण कामगारों को मिलेगा एक लाख रुपए  ऋण

Facebook
WhatsApp
Telegram

पीएम विश्वकर्मा योजना : ग्रामीण कामगारों को मिलेगा एक लाख रुपए  ऋण

पीएम विश्वकर्मा योजना, पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत कारीगरों को 5% की दर पर  2 लाख का कर्ज मिलेगा,pm vishwakarma scheme, pm vishwakarma yojna, PMVY -  Webkroidea

“जानें, क्या है पीएम विश्वकर्मा योजना और इससे किन लोगों को मिलेगा लाभ”

केंद्र सरकार की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध कराने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसके लिए ग्रामीण इलाकों में रह रहे कामगारों के लिए एक खास योजना शुरू करने की मंजूरी दी गई है। इस योजना को पीएम विश्वकर्मा योजना  का नाम दिया गया है। इस योजना के तहत वह व्यक्ति जो गुरु-शिष्य परंपरा के तहत कार्यों को करके अपना गुजर-बसर करते हैं, उन्हें लाभान्वित किया जाएगा। पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत ऐसे कामगारों को एक लाख रुपए तक ऋण उपलब्ध कराया जाएगा जो बहुत ही सस्ता होगा। इससे यह कामगार अपने व्यवसाय को बढ़ाकर अच्छा लाभ कमा सकेंगे। वहीं जो कामगार हुनर तो रखते हैं पर उनके पास इस काम को शुरू करने के लिए पैसा नहीं है, ऐसे लोगों के लिए सरकार की यह पीएम विश्वकर्मा योजना वरदान साबित हो सकेगी। खास बात यह है कि पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत उन्हें आसानी से एक लाख रुपए तक का बैंक लोन मिल सकेगा। यदि आप भी कामगारों की श्रेणी में आते हैं तो यह खबर आपके लिए जानना जरूरी है।

पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत कैसे करें आवेदन

पीएम विश्वकर्मा योजना की घोषणा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2023 में की थी। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से विश्वकर्मा योजना के लिए 13 हजार करोड़ रुपए की राशि आवंटन की घोषणा की है। यह योजना 17 सितंबर 2023 को विश्वकर्मा जयंती से शुरू की जाएगी। अभी इस योजना में आवेदन से संबंधित आधिकारिक रूप से कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। अभी तक इसकी आफिशियल वेबसाइट भी लांन्च नहीं की गई है।

क्या है पीएम विश्वकर्मा योजना

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर पीएम मोदी ने लाल किले में अपने उद्बोधन में विश्वकर्मा जयंती  पर पीएम विश्वकर्मा योजना  के शुरू करने के संकेत दिए थे। इसलिए यह योजना 17 सितंबर को विश्वकर्मा की जयंती  से शुरू की जाएगी। केंद्रीय मंत्री अश्वनी वैष्णव के मुताबिक यह योजना छोटे-छोटे कस्बों में अनेक वर्ग के ऐसे लोगों के लिए शुरू की जाएगी जो गुरु-शिष्य परंपरा के तहत कौशल से जुड़े कामों में लगे हुए हैं। इसमें कुम्हार, लुहार, नाई, फूलों का काम करने वाले, राज मिस्त्री, मछली का जाल बुनने वाले आदि लोग शामिल किए जाएंगे। इस तरह इस योजना का लाभ देश के करीब 30 लाख से ज्यादा परंपरागत कामगारों को मिल सकेगा। इस योजना के तहत इन्हें कम ब्याज पर बैंक लोन दिया जाएगा जिससे वह अपने कार्य को ओर अधिक कुशलतापूर्वक करने में सक्षम होंगे।

पीएम विश्वकर्मा योजना के लाभ

1 पीएम विश्वकर्मा योजना का लाभ छोटे-छोटे कस्बों में रह रहे परंपरागत कार्य करने वाले कामगारों को मिल सकेगा।

2 पीएम विश्वकर्मा योजना के जरिये इन्हें बैंक से कम ब्याज पर लोन मिल सकेगा।

3 पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत मिलने वाली आर्थिक सहायता से उन्हें अपने काम में    न       आसानी होगी।

4 पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत इस बात पर ध्यान दिया जाएगा कि कैसे इन कामगारों के       अधिक कौशल विकास हो और उन्हें नए उपकरणों व डिजाइन की जानकारी मिले।

5 पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत उपकरणों की खरीद में भी मदद की जाएगी।

6 पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत प्रशिक्षणार्थियों को कोर्स पूरा करने पर उन्हें पीएम  न   विश्वकर्मा  प्रमाण-पत्र या पहचान पत्र प्रदान कर मान्यता दी जाएगी।

7 पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत लाभार्थियों को बाजार में पहुंच प्रदान करने में सुविधा दी          जाएगी।

पीएम विश्वकर्मा योजना का लाभ किन लोगो को मिलेगा 

पीएम विश्वकर्मा योजना में कितना मिल सकता है ऋण 

पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत कामगारों को एक लाख रुपए से लेकर 2 लाख रुपए तक का लोन  दिया जाएगा। इसमें छोटे कामगारों को एक लाख व बड़े कामगारों को 2 लाख रुपए का लोन दिया जाएगा। लोन की राशि कामगार के काम पर निर्भर करती है। योजना के प्रथम चरण में एक लाख रुपए का लोन दिया जाएगा। जबकि कार्य को व्यवस्थित करने के बाद योजना के दूसरे चरण में 2 लाख रुपए का बैंक लोन प्रदान किया जाएगा।

पीएम विश्वकर्मा योजना में ऋण  पर कितना लगेगा ब्याज 

वैसे तो बैंक की लोन ब्याज दर काफी अधिक होती है, लेकिन पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत लिए गए लोन पर दर बहुत कम ली जाएगी। इस पर ब्याज दर 5 प्रतिशत वार्षिक होगी। इस योजना पर 13 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। यह योजना 2023-24 से लेकर 2027-28 यानी योजना पांच वर्ष के लिए संचालित की जाएगी।

पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत ये काेर्स होंगे संचालित

1 पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत कामगारों के लिए दो कार्यक्रम या कोर्स शामिल किए गए हैं      जिसमें पहला बेसिक और दूसरा एडवांस कोर्स होगा।

2 इस योजना के तहत पहला बेसिक कार्यक्रम होगा जिसमें संबंधित काम के विषय में प्रशिक्षण    दिया जाएगा। दूसरा एडवांस कार्यक्रम जिसमें कार्य से सबंधित नई डिजाइन व तकनीक अथवा    उपकरणों से अवगत कराया जाएगा। इन दोनों ही कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षणार्थियों को 500     रुपए के हिसाब से मानदेय दिया जाएगा।इसके अलावा पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत     कामगारों को आधुनिक उपकरण खरीदने के लिए 15,000 रुपए की मदद भी की जाएगी।

पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत लोन के लिए आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

1 आवेदन करने वाले व्यक्ति का आधार कार्ड

2 आवेदन करने वाले व्यक्ति का पैन कार्ड

3 आवेदक का आय प्रमाण-पत्र

4 आवेदक का आयु प्रमाण-पत्र

5 आवदेक का मूल निवास प्रमाण-पत्र

6 आवदेक का बैंक खाता विवरण, इसके लिए पासबुक की कॉपी

7 आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो

8 आवेदक का मोबाइल नंबर आदि।

 

Leave a Comment

HINDI ROJGAR UPDATE

Trending Results

Request For Post